Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

सिर्फ नाम की है मॉडल रोड, न लाइट की व्यवस्था, न ही बनी हैं नालियां

शहडोल शहर की जयस्तंभ से बाणगंगा चौक तक मुख्य सड़क का निर्माण लंबे समय से अधूरा पड़ा है। यह शहर की तीसरी मॉडल रोड के नाम से जानी जाती है लेकिन सड़क आधी अधूरी पड़ी है। सड़क निर्माण का कार्य पिछले 3 साल से चल रहा है लेकिन अभी तक पूरा नहीं हो पाया है। सड़क की कुल लागत 6 करोड़ रुपए बताई गई है। नगर पालिका प्रशासन और ठेकेदार काम में ढिलाई कर रहे हैं, जिसके कारण सड़क निर्माण में देरी हो रही है।

मॉडल रोड के दोनों ओर अभी तक नालियों का निर्माण नही किया गया है । डिवाइडर के बीच में लाइट कीभी व्यवस्था नही है। वहीं लाइट के कुछ खंभे लगे हैं जो कमजोर हैं। जरा सी तेज हवा को भी नहीं झेल पाते हैं। पिछले महीने चली तेज हवा में एक खंभा बीच सड़क पर गिर गया था। ऐसे मे बड़ा हादसा भी हो सकता था।

नालियों का निर्माण ना होने से बरसात के मौसम में सड़क पर पानी जमा हो जाता है। पानी भर जाने और कीचड़ के कारण लोगों को आने जाने में परेशानी होती है। सड़क की भी हालत बदतर हो चुकी है। सड़क पर गड्डे नजर आते हैं। वहीं कई जगह से सड़क उखड़ गई है जिससे वाहनों को आने जाने में काफी परेशानियां हो रही हैं। माडल रोड के निर्माण मे हो रही देरी को नगरपालिका प्रशासन ने संज्ञान में लिया है और अधूरे पड़े कामों को जल्द पूरा कराने का आश्वासन दिया है ।

स्थानीय लोगों का कहना है कि सड़क पर नालियों और बिजली की व्यवस्था न होने से उन्हें भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लोगों ने जल्द से जल्द प्रशासन से बिजली और नाली व्यवस्था देने की मांग की है।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें