Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

नहीं थम रहा भर्ती प्रक्रिया घोटाले का बवाल, कांग्रेस द्वारा किया गया मौन प्रदर्शन

बीते दिनों अनूपपुर जिले के कोतमा में नई नगर परिषद का गठन किया गया था, जिसमें लगभग 100 नये कर्मचारियों की भर्ती की गई थी। लोगों का मानना है कि नगर परिषद की इस भर्ती प्रक्रिया में फर्जीवाड़ा किया गया है। भर्ती प्रक्रिया के इस घोटाले में डोला बनगवां, डूमरकछार जैसे इलाकों में हुई भर्तियों का नाम सामने आया है। पूरे मामले के खिलाफ कांग्रेस ने 2 सितंबर को अनेकों स्थानों पर प्रदर्शन किया और एसडीएम को अपना ज्ञापन भी सौंपा।

इससे पहले भी युवा कांग्रेस जिला अध्यक्ष द्वारा 23 अगस्त को विभागीय अधिकारी को एक ज्ञापन सौंपा गया था। इसमें मांग की गई थी कि भर्ती प्रक्रिया में हुए फर्जीवाड़े की 1 सप्ताह के भीतर निष्पक्ष जांच की जानी चाहिए। लेकिन

कोई कार्यवाही होती ना देख युवा कांग्रेस ने फिर से 2 सितंबर को एसडीएम कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया और मौन धरना दिया। युवा कांग्रेस के ज्ञापन में कहा गया है कि नगर परिषद की भर्ती प्रक्रिया में हुई गड़बड़ी की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए, और दोषियों के खिलाफ उचित कार्यवाही भी की जानी चाहिए।

संबंधित अधिकारियों को कई बार पत्र सौंपे गए शिकायतें लिखी गई लेकिन इस विषय में कोई कार्यवाही नहीं की गई। युवा कांग्रेस अध्यक्ष का कहना है कि प्रशासन द्वारा बार-बार हमारी मांग को अनसुना किया जा रहा है। अगर युवा कांग्रेस की मांगों को नहीं सुना गया तो विवश होकर उन्हें कोर्ट का दरवाजा खटखटाना होगा। प्रदर्शन में शामिल कांग्रेस जिला महामंत्री जेपी श्रीवास्तव ने भी मामले के जांच की मांग की है और कथित गड़बड़ी के लिए प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया। प्रदर्शन में अब युवा कांग्रेस को शिवसेना और अन्य दलों का भी साथ मिल रहा है।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें