Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

54,175 का लक्ष्य होगा महाअभियान में पूरा, कई इलाकों में वैक्सीन की कमी

कोरोना के चलते मुसीबतों के बीच जिलेवासियों के लिए एक राहत की खबर निकल कर के आई है कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर के संक्रमण से पहले इसी माह 18 वर्ष से अधिक आयु वाली 461172 की आबादी पूरी तरह से वैक्सीनेट हो सकती है।

अब सिर्फ 54,175 लोगों को पहली डोज लगने के बाद उमरिया टोटल वैक्सिनेट जिलों में से एक होगा। स्वास्थ विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में 30 हज़ार से अधिक डोज महाअभियान के दौरान लगाई जा चुकी है। इसी के चलते 17 सितंबर से शुरू होने वाले विशेष चरण में ये बड़ा कदम उठाया जाएगा। इस अभियान की तैयारियां भी माइक्रो स्तर पर शुरू कर दी गई हैं।

लेकिन ग्रामीण क्षेत्र एक ऐसा क्षेत्र है जो इस मामले में पिछड़ा हुआ है। 100 फीसदी वैक्सिनेट होने की सूची में उमरिया, पाली व मानपुर नगरीय निकाय मौजूद है। यहां कम से कम लोगों में एक डोज लग चुका है। यह मुकाम पर अभी चंदिया नही पहुंच पाया है।

और यदि बात करें ग्रामीण क्षेत्रों में पाली व मानपुर के जंगली बसाहट की तो यहां विभाग को बहुत मशक्कत करनी पड़ रही है क्योंकि यहां की ज्यादातर आबादी रोजगार के लिए घर से अक्सर बाहर ही रहती है जिस कारणवश लोग घरों में नही मिलते।

एक तरफ जहां स्वास्थ विभाग शत प्रतिशत वैक्सिनेट होने के राह में आगे बढ़ता हुआ नजर आ रहा है तो वहीं दूसरी वैक्सीन को न मिलने की वजह से लोगों को चिंता में डाल दिया है। 352154 आबादी को वैक्सीन की पहली डोज लग पाई है और 54843 को दूसरी लग पाई है।

महाअभियान से स्वास्थ विभाग को कई सारी उम्मीदें हैं। नियमित वैक्सीन सेंटर में टीकाकरण में सुस्ती देखी जा रही है। मंगलवार को कोई टीका मौजूद नही था। टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर सीपी शक्या ने बताया की 17 सितंबर से महाअभियान चलना है जिसके माध्यम से अधिक से अधिक टीके लगाने का प्रयास किया जाएगा।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें