Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

25 सितंबर को कांग्रेस करेगी प्रदेश व्यापी आंदोलन, केंद्र सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ किया जाएगा प्रदर्शन

केंद्र और राज्य सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ कांग्रेस ने आंदोलन करने का मन बना लिया है। कांग्रेस पार्टी द्वारा 25 सितंबर को प्रदेश व्यापी आंदोलन किया जाएगा। शहडोल जिले में भी 25 सितंबर को कलेक्टर ऑफिस में यह विरोध प्रदर्शन आयोजित होगा।

आंदोलन का नेतृत्व कांग्रेस कमेटी शहडोल के अध्यक्ष आजाद बहादुर सिंह द्वारा किया जाएगा। जिला कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा सभी ब्लॉक अध्यक्ष, मंडल अध्यक्ष, सेक्टर अध्यक्ष व जिला महिला कांग्रेस की पदाधिकारी को इस आंदोलन में सहभागिता करने का निवेदन किया गया है।

आंदोलन के केंद्र में जन सामान्य के और स्थानीय मुद्दे होंगें। बेरोजगारी, महंगाई, कृषि कानून, जासूसी कांड, कुटीर उद्योग, कोविड-19 के तहत जान गवाने वाले परिवारों को मुआवजे की मांग, कांग्रेस की न्याय योजना के तहत 7500 रुपए महीना राशि का वितरण जैसे मुद्दे कांग्रेस प्रमुखता से उठाएगी।

यह आंदोलन मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के निर्देश पर किया जाएगा। जैसा कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उद्योगों में स्थानीय शिक्षित बेरोजगारों को 70% रोजगार देने का वादा किया था, वही मांग इस आंदोलन में भी दोहराई जाएगी।

ग्रामीण इलाकों में 24 घंटे बिजली की आपूर्ति, पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस के दामों में कटौती, सिंचाई व्यवस्था, स्वास्थ्य व्यवस्था जैसे मुद्दे भी आंदोलन में उठाए जाएंगे।

वोकल न्यूज़ शहडोल से हुई बातचीत में शहडोल जिले के कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष आजाद बहादुर सिंह ने बताया कि किस तरह शहडोल के संसाधनों को बाहर भेजा जा रहा है और शहडोल के लोगों को बेरोजगार किया जा रहा है।

शहडोल में भारी मात्रा में मीथेन भंडार पाया गया है लेकिन उससे संबंधित कोई भी उद्योग नहीं लगाया जा सका है। सारा संसाधन प्रदेश और देश के बाकी हिस्सों में भेज दिया जाता है।

जिला कांग्रेस अध्यक्ष का यह भी कहना है कि सरकार कोरोना महामारी को नियंत्रित करने में नाकाम रही है। लाकडाउन के तहत हजारों लोगों के रोजगार छीने गए हैं और कई लोगों ने अपनी जान गवाई हैं।

कांग्रेस का कहना है कि देश में लगातार बढ़ रही बेरोजगारी, महंगाई, कृषक आंदोलन के लिए सरकार की नीतियां जिम्मेदार हैं। सरकार जब तक जनता की आवाज नहीं सुनती है, कांग्रेस तब तक इसी तरह प्रदर्शन और आंदोलन करती रहेगी।

उम्मीद है इस तरह के प्रदर्शनों का असर सरकार पर होगा और देश में अर्थव्यवस्था और शासन की स्थिति सुधर सकेगी।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें