Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

अनुपयोगी साबित हो रहा, 80 लाख का स्टेडियम उर्फ गौशाला

आरएसएस विभाग द्वारा ठेकेदार के जरिए ग्राम पंचायत कोहका में 2019 में 80 लाख की लागत से स्टेडियम का निमार्ण कार्य करवाया गया था। जैसे ही यह निर्माण कार्य खत्म हुआ ठेकेदार ने स्टेडियम को ग्राम पंचायत को सौंप दिया था। यह जनपद मुख्यालय में खेलकूद के लिए एकमात्र स्टेडियम था।

पहले कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण ये बंद पड़ा रहा उसके बाद पंचायत व विभाग की उदासीनता के कारण 80 लाख का यह स्टैडियम किसी उपयोग के लिए साबित नही हो पाया है। समय समय पर इसकी साफ सफाई न होने के कारण इसकी हालत इतनी बतर हो चुकी है की खेल कूद की कोई गतिविधि भी यहां संचालित नही हो पा रही है।

जब खिलाड़ियों द्वारा इस बात पर शिकायत दर्ज करवाई गई तब जनपद अध्यक्ष धीरज सिंह श्याम द्वारा इस स्टेडियम का निरीक्षण किया गया। और वहां पहुंचकर वो खुद हैरान हुए और सारी दर्ज शिकायतौं को सही पाया। जब बात इस स्टेडियम निमार्ण कार्य की करें तो, गांव में खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने के लिए इन योजनाओं को शुरू किया गया था।

पुष्पराजगढ़ में फुटबाल व क्रिकेट काफी लोकप्रिय खेल माने जाते हैं। हर वर्ष ग्रामीण स्तर पर फुटबाल टूर्नामेंट का आयोजन किया जाता है लेकीन स्थान न होने के कारण काफी परेशानियों का सामना खिलाड़ियों को करना पड़ता है। इन स्टेडियम में प्रशासन की ओर से खासी लापरवाही बरती जा रही है।

जब स्थानीय लोगों से इस स्टेडियम के बारे में पूछा गया तब उन्होंने बताया की शाम के ढलते ही कुछ लोग आवारा मवेशियों को लाकर इस स्टेडियम में बंद कर देते हैं जिस वजह से रात भर मवेशी इस स्टेडियम के परिसर में रहते हैं और इन्हें सुबह खोल दिया जाता है।

इनके द्वारा फर्श पर भी भारी मात्रा में नुकसान कर दिया गया है। स्टेडियम में न ही कोई कर्मचारी को नियुक्त किया गया है और नाही इसके मुख्यद्वार को बंद किया गया है जिस कारणवश स्टेडियम एक गौशाला बना हुआ है। इस स्टेडियम को ग्राम पंचायत के हाथ जरूर कर दिया हो लेकिन ग्राम पंचायत द्वारा इसका रखरखाव बजट के आभाव के कारण नही किया जा रहा है।

इस पर सीईओ जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ देवेंद्र सोनी का कहना है की इस संबंध में ग्राम पंचायत को निर्देश दिए जा चुके हैं की वो जल्द से जल्द स्टेडियम की सुरक्षा के लिए योजना बना कर प्रस्तुत करे।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें