Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

ठप पड़ा उत्पादन, कोयला उद्योग में हड़कंप

बीते 7 दिनों के लम्बे समय से एसईसीएल हसदेव क्षेत्र और जमुना कोतमा क्षेत्र में रोड सेल के माध्यम से किए जाने वाले कोयले के विक्रय का परिवहन ट्रक ऑनर्स एसोसिएशन के द्वारा भाड़ा बढ़ाए जाने की मांग को लेकर बंद रखा गया है।

ट्रक ऑनर्स एसोसिएशन द्वारा सभी परिवहन संबंधित कार्य को ठप कर दिया गया है और विरोध प्रदर्शन जताया जा रहा है। इस अनिश्चितकालीन हड़ताल के चलते कोतमा क्षेत्र व हसदेव क्षेत्र के 15 कोयला खदानों से कोयले का परिवहन ठप पड़ा हुआ है।

जब इस सिलसिले को लेकर रामजी रिंकू मिश्रा जो की ट्रक ऑनर्स एसोसियेशन डोला के अध्यक्ष हैं, पूछा गया तो उन्होंने कहा की पहले भी प्रबंधन को डीजल के दाम में बढ़ोतरी के बाद भाड़ा बढ़ाए जाने की मांग की गई थी जिसे प्रबंधन ने स्वीकार नही किया।

अब इन हालातों में कोयले का परिवहन करने से ट्रक ऑनर्स को हर दिन घाटे का सामना करना पड़ा जिसके कारण अनिश्चितकालीन हड़ताल करने जैसा अहम फैसला मजबूरी में आकर एसोसियेशन को लेना पड़ा।

एसईसीएल सोहागपुर कोयला क्षेत्र के खदानों से बड़ी संख्या में कर्मचारी कार्यमुक्त हो रहे हैं। इसमें सबसे अधिक आंकड़ा क्लर्क का है, जिस कारण खदानों के काम में भारी रूप से असर पड़ रहा है।

इसका असर वित्त विभाग और श्रम विभाग में ज्यादा पड़ता हुआ नज़र आ रहा है। अब जो क्लर्क हैं उन पर काम का इतना भारी असर पड़ चुका है की समय पर कोई भी काम नही हो पाता है।

जिस कारणवश परेशानियां भी बढ़ती ही जा रहीं हैं। समय से काम पूरा न होने पर कर्मचारी भी लोड में आकर परेशान होने पर मजबूर हो जाता है।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें