Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

तालाब के मरम्मत कार्य में की जा रही लापरवाही, नगरपालिका पर उठे सवाल

अनूपपुर के कोतमा में पुरानी बस्ती के पास स्थित शिवसागर तालाब की मरम्मत और सौंदर्यीकरण का फैसला लिया गया था। नगर पालिका द्वारा पचासी लाख रुपए की निधि से यह काम पूरा किया जाना था।

इस काम का शुभारंभ प्रदेश के खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह द्वारा फरवरी माह में किया गया था। लेकिन मरम्मत का कार्य फरवरी में शुरू ना हो सका। ठेकेदार द्वारा देरी से काम शुरू हुआ और अधूरा ही छोड़ दिया गया। कभी लॉकडाउन तो कभी बरसात का बहाना बनाकर काम को टाला जाता रहा।

कोतमा के नागरिक लंबे समय से इस तालाब की मरम्मत और सुंदरीकरण के लिए नगरपालिका से मांग कर रहे थे। उनका कहना है कि न तो तालाब की मेढ़ सही से बनाई गई है और न ही तालाब की साफ-सफाई की जा रही है। बताया यहां तक जा रहा है कि कई जगह तालाब की मेढ़ धंस चुकी है।

नगर पालिका द्वारा सरोवर योजना के तहत इस तालाब की मरम्मत कराई जानी थी। इसके तहत तालाब की 400 मीटर की मेढ़ में 30 फीट गहराई तक पत्थरों की पिचिंग की जानी थी। लेकिन यह काम अभी तक पूरा नहीं किया गया है।

इसकी शिकायत ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मनोज सोनी द्वारा नगरपालिका के अधिकारियों को भी की गई । साथ ही यह भी मांग की गई है कि ठेकेदारों को दिया गया टेंडर रद्द किया जाए और किसी दूसरी कंपनी से जल्द से जल्द मरम्मत कार्य कराया जाए।

दूसरी तरफ नगरपालिका के कर्मचारियों का कहना है कि तालाब मरम्मत कार्य का अभी तक भुगतान नहीं किया गया है। बरसात के मौसम के बाद बाकी बचा काम पूरा किया जाएगा। यह भी खबर सामने आई है कि तालाब के अधिकांश हिस्से में अतिक्रमणकारियों द्वारा कब्जा कर लिया गया है।

ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष मनोज सोनी द्वारा इस अवैध अतिक्रमण को हटाने और जल्द से जल्द काम पूरा करने की भी मांग की गई है। तालाब पानी के स्रोत होते हैं उनका संरक्षण और बचाव आवश्यक है। उम्मीद है जल्द से जल्द तालाब की मरम्मत का काम पूरा किया जाएगा।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें