Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने सौंपा विश्वविद्यालय के कुलसचिव को ज्ञापन, बताईं विद्यार्थियों की समस्याएं

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने शहडोल के पंडित शंभूनाथ शुक्ल विश्वविद्यालय के कुलसचिव को ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन में विश्वविद्यालय में व्याप्त छात्र छात्राओं की समस्याओं का उल्लेख किया गया है। विद्यार्थी परिषद ने इस ज्ञापन में जहां विद्यार्थियों की शिकायतें भेजी है वही अपनी कुछ मांग भी रखी हैं।

विद्यार्थी परिषद का कहना है कि विश्वविद्यालय में 30% सीट वृद्धि करके बाकी छात्र छात्राओं का एडमिशन किया जाना चाहिए। परिषद ने कहा है कि विश्वविद्यालय में बस सेवा शुरू करने के लिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा तीन दिवसीय धरना किया गया था और विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा बस चलाए जाने का आश्वासन भी दिया गया था, लेकिन अभी तक वह बस सेवा शुरू नहीं हो पाई है। इसलिए जल्द से जल्द कैंपस में बस सेवा भी शुरू की जानी चाहिए।

इसके अलावा परिषद ने फीस बढ़ोतरी के खिलाफ भी शिकायत की है। परिषद का मानना है कि विश्वविद्यालय कैंपस में कुछ छात्र संगठन और उनके नेता असामाजिक तत्वों के साथ मिलकर छात्र छात्राओं से एडमिशन के नाम पर पैसा वसूल रहे हैं।

ऐसे लोगों के खिलाफ भी कार्यवाही की मांग की गई है। विश्वविद्यालय कैंपस में हेल्पलाइन नंबर जारी करने की भी मांग रखी गई है ताकि किसी भी छात्र छात्रा के साथ ठगी या अपराधिक घटना होने पर उस पर जल्द कार्यवाही की जा सके।

विश्वविद्यालय में फैकल्टी और टीचर्स की कमी को लेकर भी ज्ञापन सौंपा गया है। साथ ही साथ विश्व विद्यालय के हॉस्टल को जल्द से जल्द खोलने की मांग भी रखी गई है। यहां तक की विश्वविद्यालय में नवनिर्मित लाइब्रेरी को भी जल्द से जल्द खोले जाने के बारे में बात की गई है।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का कहना है कि इन सभी मांगों पर विश्वविद्यालय प्रशासन को जल्द से जल्द एक्शन लेना चाहिए। अगर इन शिकायतों का निराकरण ना हुआ और उनकी मांगे पूरी ना की गई तो वह उग्र आंदोलन करने के लिए मजबूर हो जाएंगे। विश्व विद्यालय की ओर से कुलसचिव ने ज्ञापन प्राप्त किया और जल्द से जल्द विद्यार्थियों की मांग को पूरा करने का भरोसा दिया है।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें