Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

प्रशासन की लापरवाही पड़ी युवक को भारी, जहर खाकर किया आत्महत्या का प्रयास

शासकीय व्यवस्था से बार-बार, लगातार गुहार लगाई गई लेकिन किसी ने एक न सुनी, जिससे तंग आकर बुढार तहसील कार्यालय में तहसीलदार के बिल्कुल समक्ष एक युवक ने जहर खाकर आत्महत्या जैसी वारदात को अंजाम दिया। शुकर इस बात का है कि युवक को कुछ हुआ नही लेकिन हालत काफी गंभीर बताई जा रही है।

जिंदगी और मौत के बीच लड़ रहा ये युवक अपने पड़ोसी के साथ काफी समय से विवाद में था और न्याय की भीग मांगता लगातार कार्यालयों के चक्कर काटता रहा लेकिन प्रशासन की गहरी नींद के कारण युवक परेशान हो गया और ऐसा फैसल लेने पर मजबूर हो गया।

यह युवक जिसका नाम अज्जू प्रजापति है जो कि बुढार थाना क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 2 में रहता था, जिसका आरोप था कि उसके पड़ोसी ने उसका ज़मीनी हक छीन लिया है, और इसकी शिकयत कई थाने, तहसील व कई कार्यालयों में की गई लेकिन फिर भी कोई सुनवाई नही हुई। हालत इतनी लाचार की अज्जू प्रजापति के घर कुछ बदमाश उसकी ज़मीन पर कब्जा करने के उद्देश्य से उसके घर पहुंचे जिसको देख कर अज्जू ने 100 नंबर पर डायल किया और फिर थाने पहुंच गया, थाने से उसे यह कह कर लौटा दिया कि यह ज़मीनी मामला है जिसके चलते तहसील कार्यालय में कुछ मदद मिलेगी, लाचार पीड़ित अपने परिवार के साथ तहसील पहुंचा जहां उन्होंने बुढार तहसीलदार मीनाक्षी बंजारे को मामले की जानकारी प्रदान करते हुए न्याय की गुहार लगाई, लेकिन कहां प्रशासन ने इस ओर ध्यान देना था, बात की सीधे सीधे अनदेखी कर दी गई और बात को वहीं टाल दिया जिसको देख युवक की नाराज़गी का ठिकाना नही जिसके बाद युवक ने तहसील परिसर में तहसीलदार के समक्ष जहर का सेवन कर लिया, जिस कारणवश धीरे धीरे युवक अपने होश खोने लगा।

उसकी बिगड़ती हालत को देख, इस सामुदायिक स्वास्थ केंद्र ले जाया गया। हालत न सुधरने पर उसे जिला अस्पताल रेफर किया गया। अब पीड़ित का यहां इलाज चल रहा है। अब भी उसकी लड़ाई खत्म नही हुई है, पहले अपने हक के लिए लड़ना, अब अपनी जिंदगी के लिए। पीड़ित परिवार अब लाचार है, और न्याय की गुहार लगाते हुए पुलिस प्रशासन और पड़ोसी के साथ साथ तहसीलदार को इन सबका दोषी ठहरा रहा है।

उम्मीद यही होगी की प्रशासन अपनी नींद से जाग जाए, और लोगों की परेशानियों को समझते हुए अपने कार्य कायदे से करे।

ReplyForward

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें