Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

मेडिकल संचालक पर गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज, बिना डिग्री कर रहा था मरीजों का इलाज

कुछ दिनों पहले शहडोल के गोहपारू थाना के अंतर्गत खन्नौधी गांव के रहने वाले एक मरीज की मेडिकल संचालक द्वारा गलत इंजेक्शन लगाने से मौत हो गई थी। इसी मामले को लेकर पुलिस द्वारा मेडिकल संचालक के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है और उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

पिछले महीने खन्नौधी के रहने वाले सेवाराम को कुछ तकलीफ के बाद उनकी पत्नी गंगोत्री पनिका इलाज के इस मेडिकल संचालक के पास ले गई थी। मेडिकल संचालक द्वारा गलत इंजेक्शन लगाए जाने के बाद सेवाराम की मृत्यु हो गई थी।

इस सिलसिले में मृतक की पत्नी गंगोत्री जी ने मेडिकल संचालक गजेंद्र चतुर्वेदी के खिलाफ कई बार शिकायतें दर्ज कराई लेकिन पुलिस कार्यवाही करने से बचती रही लेकिन आखिरकार पुलिस ने इस मेडिकल संचालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। गजेंद्र चतुर्वेदी से पूछताछ में पता चला कि उसके पास कोई भी वैध डिग्री नहीं है और बिना किसी डिग्री और लाइसेंस के लंबे समय से वह मरीजों का इलाज कर रहा था।

सेवाराम के इलाज के लिए भी उनके परिजन इस मेडिकल संचालक के पास गये थे लेकिन मेडिकल संचालक द्वारा गलत इंजेक्शन लगाए जाने के कारण 24 सितंबर को सेवाराम पनिका की मृत्यु हो गई थी। गोहपारू थाना प्रभारी दयाशंकर पांडे का कहना है कि मामले में जांच के बाद गजेंद्र चतुर्वेदी को दोषी पाया गया है और उसे गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है। साथ ही आरोपी के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। आखिरकार सेवाराम के परिजनों की शिकायत का असर हुआ और पुलिस द्वारा इस विषय में कार्यवाही की गई।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें