Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

रिकवरी कर्मचारी पर धोखाधड़ी कर लाखों रूपए गबन करने का आरोप, दो बार शिकायत करने के बाद भी मामला नहीं किया गया दर्ज़

शहडोल कार्यालय की श्रीराम फाइनेंस कॉर्पोरेशन प्राइवेट लिमिटेड ने कंपनी में काम करने वाले रिकवरी कर्मचारी द्वारा बाढ़सागर, ब्यौहारी क्षेत्र के ग्राहकों और कंपनी के साथ धोखाधड़ी कर लाखों रूपए गबन करने का आरोप लगाया है।

जानकारी के अनुसार रिकवरी कर्मचारी लक्ष्मीकांत अग्निहोत्री, धरी नंबर 2, ब्यौहारी का निवासी है। स्थानीय व्यक्ति होने के कारण वह कंपनी के ग्राहकों से पैसे लेकर अपनी आईडी से रसीद बनाकर उन्हें दे देता था, किन्तु उनसे ली गई राशि को कंपनी के खाते में जमा नहीं करता था।

इसे अपराध के चलते लक्ष्मीकांत पर कुल 15लाख 12 हज़ार 7 सौ 70 रूपए की राशि के गबन का मामला मालूम हुआ है। इस मामले की जानकारी मिलते ही कंपनी के लीगल हेड ने रिकवरी कर्मचारी लक्ष्मीकांत अग्निहोत्री के खिलाफ एक साल पहले एफआईआर दर्ज़ करने के लिए थाना प्रभारी देवलोंद बाणसागर को सूचना दी थी, किंतु अभी तक इस मामले के ऊपर पुलिस प्रशासन द्वारा कोई सख्त कार्यवाही शुरू नहीं की गई है।

श्रीराम फाइनेंस कॉर्पोरेशन की शिकायत है कि लक्ष्मीकांत ग्रामीणों के पैसे लेकर उसे कंपनी के खाते में जमा नहीं करता था, जिसकी शिकायत कंपनी द्वारा दो बार थाना देवलोंद में की गई, किंतु हर बार थाने के अधिकारियों द्वारा कोई न कोई कारण बताकर शिकायत को नज़रअंदाज़ किया गया और आरोपी के ऊपर एफआइआर भी दर्ज नहीं की गई।

इसके बाद आखिर में थक-हारकर कंपनी को जिले के पुलिस अधीक्षक के पास ही मदद के लिए जाना पड़ा ताकि आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाये और ग्रामीणों द्वारा हड़पी गई राशि को कंपनी के खाते में जमा कराया जाये जिससे ग्रामीणजनो और कंपनी, दोनों को ही न्याय मिल सके।

थाना देवलोंद द्वारा इस मामले में की गई लापरवाही, पुलिस प्रशासन प्रबंधन पर कई सवाल खड़े कर दे रहा है। पुलिस अधीक्षक को इस मामले की खबर हो जाने के बाद यह उम्मीद है कि अब आरोपी लक्ष्मीकांत पर सख्त कार्यवाही की जायगी और श्रीराम फाइनेंस कंपनी व पीड़ित ग्रामीणजनों को न्याय मिल सकेगा।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें