Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

सीतापुर खदान के पहुंच मार्ग को लेकर बढ़ा विवाद, पुलिस की मौजूदगी में हुआ सीमांकन

अनूपपुर जिले के सीतापुर की 3 रेत खदान के पहुंच मार्ग को लेकर विवाद की स्थिति पैदा हो गई है। जानकारी है कि सीतापुर में केजी डेवलपर्स द्वारा रेत खनन का कार्य किया जा रहा है, जहां रेत से भरे भारी वाहन गांव की सड़क से होकर गुजरते हैं। इसीलिए इस के जमीन मालिक द्वारा शिकायत दर्ज कराई गई थी कि यह सड़क उस के स्वामित्व में है और उसने सड़क को ग्रामीणों के उपयोग के लिए दिया है।

खनन मशीनों और भारी वाहनों के गुजरने से सड़क खराब हो रही है। निजी स्वामित्व की जमीन का किसी को भी व्यवसायिक उपयोग नहीं करने दिया जाएगा। इसी को लेकर जमीन मालिक ने शिकायत की थी कि इस सड़क से खनन वाहनों की आवाजाही पर रोक लगाई जानी चाहिए।

इस विवाद के दूसरे पक्ष केजी डेवलपर्स ने भी कलेक्टर ऑफिस से शिकायत की है और कहा है कि यह सड़क ग्राम पंचायत द्वारा बनाई गई है और इस जमीन के मालिक आशुतोष सिंह और परितोष सिंह द्वारा उनके वाहनों को सड़क पर गुजरने से रोका जा रहा है। केजी डेवलपर्स ने शिकायत में यह भी लिखा है कि खनिज विभाग द्वारा भी उसी मार्ग के उपयोग के लिए चिन्हांकित किया गया है।

विवाद को बढ़ता हुआ देख अनूपपुर जिला कलेक्टर ने राजस्व और खनिज विभाग से जमीन के सीमांकन कराए जाने के निर्देश दिए थे। लेकिन 14 अक्टूबर को सीमांकन करने पहुंची टीम को देखकर शिकायतकर्ता और खदान कर्मियों के साथ ग्रामीणों के बीच वाद-विवाद हो गया। स्थिति बिगड़ती देख अधिकारियों को पुलिस बल की मांग करनी पड़ी और पुलिस की उपस्थिति में विवादित जमीन का सीमांकन शुरू किया गया।

सीमांकन संबंधी आईआर की रिपोर्ट अभी जारी नहीं की गई है लेकिन जल्द ही इस रिपोर्ट के बाद विवाद का फैसला किया जाएगा। इस विवाद पर अनूपपुर के एसडीएम कमलेश पुरी ने कहा है कि सीमांकन का कार्य कर लिया गया है और आरआई की रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी। उम्मीद है आरआई की रिपोर्ट आने तक सभी पक्ष सब्र से काम लेंगे और प्रशासन के फैसले पर सहमति जताएंगे।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें