Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

वाइट स्कॉर्पिओ से जब्त किया गया 30 किलोग्राम गांजा और 8 मोबाइल फ़ोन

शहडोल जिले में लगभग एक साल में गांजा और अन्य नशीले पदार्थों के कई केस दर्ज किये गए हैं। जानकारी के अनुसार विगत एक साल में जिले में लगभग ऐसे 95 केस दर्ज किये गए थे जिनमें 2116 किलोग्राम गांजा, 3406 सीसी कोरेक्स, 1029 नशीले इंजेक्शन और 11, 441 नशीले टेबलेट जिला पुलिस प्रशासन द्वारा जब्त किये गए है।

लेकिन इस सबके बावजूद आज भी बिना किसी खौफ़ के इन सभी नशीले और जानलेवा पदार्थों का धंधा चलता रहता है। देश में ऐसे प्रकरणों के लिए कड़े कानून बनाये तो जाते है, पर अपराधी कभी पैसो के दम पर तो कभी रिश्वत के दम पर छूट जाता है और ये अवैध धंधा थमता ही नहीं है।

जिले में फिर एक और गांजा के अवैध धंधे का मामला सामने आया है। पुलिस महानिदेशक शहडोल जोन डीसी सागर के निर्देशन में शहडोल पुलिस कप्तान अवधेश गोस्वामी द्वारा शहडोल में नशीले पदार्थों के खिलाफ लगातार कार्यवाही की जा रही है। शहडोल के खैरहा थाने को एक जानकार जासूस से प्राप्त हुई सूचना के आधार पर करकटी बंगवार बाईपास चौराहा के पास धनपुरी की तरफ से आते वक्त एक वाइट कलर की स्कॉर्पियो नंबर एमपी 65 टी 0714 को पुलिस द्वारा पकड़ा गया है। इस जासूस द्वारा प्राप्त सूचना के अनुसार स्कॉर्पियो में 7 लोग बैठे हुए थे और इनके पास लगभग 30 किलो गांजा उस गाड़ी में मौजूद था।पुलिस ने जैसे ही इस गाड़ी को आते देखा वैसे ही इसको चारों ओर से घेर लिया और जब गाड़ी की चेकिंग की तो गाड़ी की सीट के नीचे से 30 किलोग्राम गांजा और 8 मोबाइल बरामद हुए।

गाड़ी में पकड़े गए संदेहियों की उम्र लगभग 21 से 28 साल के बीच बताई जा रही है। पुलिस ने इनके पास से कुल 10 लाख 80, 000 रूपए की रकम की एक स्कॉर्पिओ और 8 मोबाइल फोन जब्त कर लिए है। और इनके खिलाफ धारा 8, 20, 25, 29 एनडीपीएस एक्ट के तहत थाना खैरहा में केस दर्ज कर लिया है।

गांजा के खिलाफ कार्यवाही में पुलिस कप्तान के मार्गदर्शन में पुलिस अधीक्षक के अलावा पुलिस निरीक्षक और कई अन्य पुलिस अधिकारियों की खास भूमिका रही और इन सभी की इस सराहनीय भूमिका को देखते हुए शहडोल पुलिस जोन टीम के लिए 30,000 की नगद इनाम राशि की भी घोषणा की गई।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें