Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

बदतर हालत को पहुँच रहा पशु अस्पताल- प्रशासन की अनदेखी

सुविधाओं के नाम पर नगर के वार्ड क्रमांक 9 में संचालित पशु अस्पताल की हालत इतनी बदतर है कि कुछ भी कह पाना मुश्किल है। सुविधाओं की यदि बात की जाए तो यहाँ कुछ भी नही है और इसी के साथ स्टाफ की भी कमी देखी ि जाती है। इस कारण आमजनों की परेशानियाँ बढ़ गई हैं। इस अस्पताल में सुरक्षा की भी कोई सुविधा नहीं है, रात के अंधेरे में असामाजिक तत्व अस्पताल के अंदर घुसकर नशाखोरी करते हैं। ऐसे हालात काफी समय से हैं लेकिन फिर भी कोई सुधार नहीं हो रहा है ।

अस्पताल में बाउन्ड्री वाल आज तक नहीं बन पाई है , यही कारण है कि नशाखोरी करने वाले रात में आकर यहाँ अपना बसेरा डाल देते हैं, जिस कारण यहाँ चोरी भी होतीीं हैं। इस सिलसिले में विभाग के अधिकारियों ने कई बार विभाग के साथ साथ जनप्रतिनिधियों को पत्र लिखा लेकिन आज तक बाउन्ड्री वाल का निर्माण नहीं हो पाया है।

एक अस्पताल होने के बावजूद यहाँ पीने का पानी है ही नहीं और न ही हेंडपंप है या फिर कोई भी अन्य पानी के साधन। यदि ऐसे समय पर पशु मालिक अपने पशुओं के इलाज के लिए यहाँ आ जाते हैं तो उन्हे पीने के पानी के लिए इधर उधर भटकना पड़ता है।

कहने को तो नगर में यह एक मात्र पशु अस्पताल है लेकिन इसकी मौजूदगी से भी कोई खास फरक पड़ता हुआ नजर नही आता। नागरिकों द्वारा अस्पताल में सुधार कार्य की मांग की गई है, अब देखना यह होगा की आखिर कब तक इन हालातों में सुधार आ पाता है ?

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें