Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

मेडिकल कॉलेज की सुविधाएँ हो सकती हैं बाधित

शासन का सुस्त रवैया अब अपनी चरम सीमा पार करता हुआ नजर पड़ता है, संभागीय मुख्यालय के सबसे बड़े शासकीय मेडिकल चिकित्सालय में 30 नवंबर को आधी रात से बिजली, पानी, लिफ्ट, जैसी सभी सेवाएँ बाधित हो सकती हैं। अब आप यह सोच रहे होंगे की इसकी वजह कोई तकनीकी खामी होगी, लेकिन नही, बिल्कुल नही इसकी वजह तकनीकी खामी नही बल्कि प्रशासनिक हीला हवाला मालूम पड़ता है।

तो बात कुछ ऐसी है की इन सेवाओं में लगी निजी एजंसियों का अनुबंध 30 नवंबर को समाप्त हो रहा है और अभी तक कार्यादेश अनुबंध का नवीकरण नही कराया गया और न ही नए अनुबंध पर काम हो रहा है। पिछले 12 महीने से एजंसियों को एक पैसा भी भुगतान नही हुआ है। इस को लेकर एजंसियों ने पत्राचार सौंपते हुए कहा की 30 नवंबर की आधी रात से उक्त सेवाओं पर काम बंद कर दिया जाएगा। यदि ऐसा होता है तो मेडिकल कॉलेज की व्यवस्था पर विपरीत असर पड़ सकता है। मेडिकल कॉलेज में प्रतिदिन 300 से अधिक मरीज चेकअप कराने आते है।

वर्तमान में 250 से अधिक मरीज भर्ती हैं, प्रसूति वार्ड के अलावा ऑपरेशन व सभी प्रकार की चिकित्सा सुविधाएँ मिलने लगी है। ऐसे में यदि सेवाएँ प्रभावित होगी तो मरीजों के साथ अस्पताल प्रबंधन के लिए परेशानी खड़ी हो सकती है।

ऐसी स्तिथि में उक्त समस्या का समाधान भोपाल स्तिथ चिकित्सा शिक्षा आयुग से ही होना चाहिए, इसके साथ बताया यह भी जा रहा है की स्थानीय प्रबंधन द्वारा बीते कई महीने से उक्त सुविधाओं की बहाली के लिए प्रयास किए जा रहे हैं लेकिन फिर भी कोई सुनवाई नही हो रही है।

उम्मीद यही होगी की आने वाले समय में ऐसी कोई भी मुसीबतों का सामना किसी को नही करना पड़े।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें