Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

जब ठेकेदार ने सोचा कम खर्चे में सरल तरीका , तालाब का निर्माण बह गया पानी में

अनुभवहीन ठेकेदार ने कम खर्च करने के बारे में सोचा, जिसका परिणाम यह हुआ की पानी से लबालब तालाब का मेड फुट गया और ऐसा होते ही तालाब का पानी नाले में जाने की बजाय लोगों के घरों के भीतर से होते हुए मुखर्जी चौक कोतमा वाली सड़क पर भर गया। जिससे बिना बरसात के बाढ़ जैसी स्तिथि निर्मित हुई।

यह पानी घर के अंदर प्रवेश करने लगा जिस कारण लोगों के घरों के भीतर से होकर सड़क पर बहने लगा व इन परिवारों के गृहस्ती का सामान पानी में उतर गया। अब ऐसा होगा तो आम सी बात है की लोगों में नाराजगी तो उत्पन्न होनी ही है।

यह नाराजगी अपनी चरम सीमा पर है क्यूंकी पहले ही लोग मुखर्जी चौक से वीडियो मोड़ तक सड़क के निर्माण न होने से अच्छे खासे परेशान नजर आ रहे थे अब इसके साथ मेड का पानी सड़क से होकर घरों के भीतर आ जाने से बिना बरसात के तालाब जैसी स्तिथि निर्मित हो गई।

जैसे ही लोगों का आक्रोश देखने को मिला तो नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मोहिनी धमेन्द्र वर्मा उपाध्यक्ष प्रभात मिश्रा सीएमओ विकास चंद मिश्र हनुमान गर्ग पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मनोज सराफ़ अंगा मौके पर पहुंचे और यह समझाया की पानी से जो लोगों के घरों में नुकसान हुआ है उसका निरीक्षण नपा प्रशासन द्वारा मौके पर किया जाएगा और जो भी नुकसान हुआ होगा उसकी भरपाई की जाएगी।

स्थानीय रहवासियों ने मुखर्जी चौक से वीडियो मोड़ तक की सड़क निर्माण कार्य तत्काल शुरू करवाए जाने की मांग पर अड़े रहे जिस पर नप अध्यक्ष श्रीमती मोहिनी धमेन्द्र वर्मा ने ठेकेदार को बुलाकर उसे 10 दिन के भीतर सड़क का निर्माण कार्य शुरू करवाए जाने के निर्देश दिए, तब कहीं लोगों का गुस्सा शांत हुआ।

अब देखने वाली बात यह होती है की आखिर कब तक यह निर्माण कार्य शुरू होते हैं, क्यूंकी हमेशा की ही तरह प्रशासन ने आश्वासन तो दे दिए हैं लेकिन उनपर अमल कितना होगा यह देखना होगा।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें