The design could not be approved, so the construction work of the overbridge hanging in the balance
Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

डिजाइन अप्रूव नही हो पाया इसलिए अधर में लटका ओवरब्रिज का निर्माण कार्य

निर्माण कार्य ग्रामीणों के लिए हमेशा एक सपना ही बना रहता है। कितने ही निरीक्षण, कितनी ही आवंटित राशि कोई काम की नही होती। आज हम बात कर रहे हैं ऐसे ही अनुपपुर में हो रहे निर्माण कार्य की, जहां शहर को दो हिस्सों में ओवरब्रिज ने बाँट रखा है। अब रेल्वे फाटक में इस ओवरब्रिज का निर्माण सभी के लिए एक सपना सा प्रतीत होतय है। इस ब्रिज के लिए आवंटित राशि कोई कम नही है बल्कि पूरे 12.01 करोड़ की है। जिलेवासियों को पिछले एक साल से झुटे आश्वासन तले दबाया जा रहा है। नया साल भी आरंभ हो चला है लेकिन निर्माण कार्य आरंभ होने की कोई स्तिथि में नज़र नही पड़ता। एक ओर अधिकारी झुटा आश्वासन देके नही थकते तो वहीं दूसरी ओर ठेकेदार डिजाइन अप्रूव नही होने का बहाना मार देते हैं।

और इसका ठीकरा स्थानीय विभाग पुल निगम विभाग भोपाल के अधिकारियों पर फोड़ रही है। बात यदि इंदिरा तिराहा से कोतवाली तिराहा के बीच की करें तो वहाँ भी हर पाँच मिनट पर रेल्वे फाटक बंद हो जाया करती है जिस कारण, नगरवासियों को आने जाने में कई मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं दूसरी ओर अनुपपुर की यातायात व विकास पर मानो को फूल स्टॉप सा लग गया हो। पूरे पाँच साल बीत चुके हैं लेकिन अब भी पल निगम शहडोल के अधिकारी जन सड़कों का आकलन लेने सड़क पर उतर रहे हैं। लेकिन यह निर्माण कार्य केवल फ़ाइलों में अटक कर रह गया है।

और सबसे ज्यादा आश्चर्यचकित की बात तो यह है की 16 अगस्त 2021 को ठेकेदार ने बिना डिजाइन अप्रूव और मशीनों को निर्माण स्थल पर पहुंचाए, खुद ही ओवरब्रिज निर्माण आरंभ की सूचना, बोर्ड पर लगाकर जगह जगह गाढ़ दिए। लेकिन महीनों भी बीत गए और नया साल भी आ गया लेकिन यह निर्माण कार्य कब आरंभ होगा बता पाना मुश्किल ही नही नामुमकिन सा लगने लगा है। जब इसी के चलते एसडीओ पल निगम देवेन्द्र सिंह से पूछा गया तो उनका वही घीसा पीट जवाब की डिजाइन अप्रूव की फाइल भोपाल भेजी गई है, एक आध सप्ताह में कार्य आरंभ हो जाएगा। अब देखने वाली बात यह होती है की आखिर कब तक इनका सप्ताह खत्म हो पाता है।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें