Virat Kohli also left the captaincy of the Test team, announced this on Twitter
Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

टेस्ट टीम की भी कप्तानी विराट कोहली ने छोड़ी, ट्विटर पर यह लिख किया ऐलान

साउथ अफ्रीका में टेस्ट सीरीज में 1-2 से हार के बाद विराट कोहली ने बड़ा फैसला लिया है. शनिवार शाम को विराट कोहली ने टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ दी है. विराट कोहली ने ट्विटर पर एक संदेश जारी कर इसका ऐलान किया.  विराट कोहली ने अपने संदेश में लिखा कि पिछले सात साल से लगातार कड़ी मेहनत और हर रोज टीम को सही दिशा में पहुंचाने की कोशिश रही. मैंने अपना काम पूरी ईमानदारी से किया और कोई भी कसर नहीं छोड़ी. लेकिन हर सफर का एक अंत होता है, मेरे लिए टेस्ट की कप्तानी को खत्म करने का यही सही वक्त है. उन्होंने लिखा, ‘इस सफर में कई उतार-चढ़ाव आए हैं, लेकिन मेरी कोशिशों और भरोसे में कभी कमी नहीं आई।’ विराट के ट्वीट पर बीसीसीआई ने भारतीय क्रिकेट में उनके योगदान का शुक्रिया अदा किया है। बोर्ड ने ट्वीट किया है, ‘BCCI टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली को उनकी प्रेरणादायी नेतृत्व क्षमता के लिए बधाई देती है जिसने टीम को ऊंचाइयों तक पहुंचाया। उन्होंने भारत की 68 टेस्ट मैचों में कप्तानी की जिसमे से 40 टीम इंडिया ने जीते।’

कोहली ने टी20 वर्ल्ड कप से पहले टी20 टीम की कप्तानी छोड़ दी थी। इसके बाद उन्हें वनडे टीम की कप्तानी से हटा दिया गया था, जिसके बाद काफी विवाद हुआ था। कोहली को वनडे फॉर्मेट की कप्तानी से हटाए जाने पर चयनकर्ताओं और विराट कोहली के बीच विवाद सामने आया था। कोहली ने अपने मेसेज में आगे लिखा, ‘मैंने हमेशा हर चीज में अपना 120 परसेंट देने में विश्वास किया है और अगर मैं ऐसा नहीं कर सकता हूं तो मैं जानता हूं कि यह सही काम नहीं है। मुझे अपने दिल मे पूरी तरह से स्पष्टता होनी जरूरी है और मैं टीम के साथ बेईमानी नहीं कर सकता।’

कोहली ने साल 2014 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट कप्तानी की शुरुआत की थी। उसके बाद से ही वह भारतीय टीम के कप्तान थे। साउथ अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट उनकी कप्तानी का आखिरी मैच था जिसमें भारत को सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा। कोहली की कप्तानी के सफर को कामयाब ही कहा जाएगा। उनकी कप्तानी में टीम दुनिया की नंबर वन टेस्ट टीम बनी। भारतीय टीम ने कोहली की कप्तानी में विदेशी दौरों पर लगातार अच्छा प्रदर्शन किया। भारतीय टीम 2021 में पहली टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल तक पहुंची। आंकड़ों के लिहाज से वह भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान हैं। कोहली की कप्तानी में भारत ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने वाला पहला एशियाई देश बना।

कोहली ने अपने साथी खिलाड़ियों की तारीफ करते हुए लिखा, ‘आप लोगों ने मेरे सफर को बहुत यादगार और खूबसूरत बनाया है। रवि भाई और सपोर्ट स्टाफ का शुक्रिया जो इस गाड़ी, जो टेस्ट क्रिकेट में लगातार ऊपर जाती रहे, का इंजन रहे, जिंदगी का यह नजरिया बनाने में आप सभी का बड़ा योगदान है। और सबसे आखिर में महेंद्र सिंह धोनी का शुक्रिया जिन्होंने मुझ पर एक कप्तान के रूप में भरोसा किया और मुझमें एक ऐसा खिलाड़ी देखा जो भारतीय क्रिकेट को आगे ले जा सकता है।’ बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने भी विराट का शुक्रिया अदा किया। बीसीसीआई की प्रेस विज्ञप्ति में जय शाह ने लिखा, ‘विराट कोहली को भारतीय टीम के कप्तान के तौर पर शानदार कार्यकाल के लिए बहुत बधाई। विराट ने इस टीम को एक बेहद फिट टीम में बदला जिसने भारत और विदेश दोनों जगह बहुत अच्छा प्रदर्शन किया। ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में टेस्ट जीत खास हैं।’

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें