India's own cryptocurrency will come Digital Rupee, 30 percent tax on investment in digital currency: Budget 2022 highlights
Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

भारत की अपनी क्रिप्टोकरेंसी डिजिटल रुपी आएगी, डिजिटल करेंसी में निवेश पर 30 प्रतिशत टैक्स: Budget 2022 highlights

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को लोकसभा में बजट -2022 पेश किया। वित्त मंत्री ने कहा है कि इस बजट के जरिए अगले पांच साल का ब्लू प्रिंट तैयार किया गया है। वित्त मंत्री ने इस बजट में सरकार की प्राथमिकताएं बताई हैं। वित्त मंत्री ने कहा कि है कि सरकार का लक्ष्य आने वाले समय में 60 लाख नौकरियों का सृजन करना है। उन्होंने कहा कि सरकार का जोर युवाओं, महिलाओं एवं गरीबों का सशक्तिकरण करने पर है। वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार नॉर्थ इस्ट के विकास के लिए विशेष योजना चलाएगी। पूर्वोत्तर राज्यों के विकास के लिए सरकार 1500 करोड़ रुपए खर्च करने जा रही है। साथ ही आंगनबाड़ी केंद्रों को आधुनिक बनाने पर जोर दिया जाएगा। बजट 2022 की प्रमुख घोषणाएं इस प्रकार हैं।

वित्त मंत्री ने कहा है कि वर्चुअल डिजिटल असेट यानि क्रिप्टो करेंसी से होने वाली कमाई पर लोगों को 30 प्रतिशत टैक्स देना होगा। इसके अलावा एनपीएस में अब 10% की जगह 14% योगदान होगा। दूसरी, वित्त मंत्री ने अपने बजट में पीएम गति शक्ति योजना पर विशेष जोर दिया है। उन्होंने कहा कि इस योजना के लिए मास्टर प्लान तैयार कर लिया गया है। वित्त मंत्री ने सरकार की चार प्राथमिकताएं गिनाई हैं। इनमें पीएम गति शक्ति, समावेशी विकास, उत्पादन एवं निवेश में वृद्धि, ऊर्जा क्षेत्र का विकास शामिल है।सरकार बच्चों की शिक्षा के लिए ई-विद्या योजना की शुरुआत करने जा रही है। इसके लिए सरकार 200 नए टीवी चैनल शुरू करेगी।इसके अलावा डिजिटल विवि की स्थापना होगी। कक्षा 1 से 12वीं तक के छात्रों को उनकी क्षेत्रीय भाषाओं में शिक्षा दी जाएगी। इस शिक्षा में हम भारतीय भाषाओं को पहुंचाने का काम करेंगे।

वित्त मंत्री ने कहा कि अगले तीन साल में देश में 400 नई बंदेमातरम ट्रेन चलाई जाएंगी। सीतारमण ने बताया कि आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत 16 लाख नौकरियां संभव हैं। सड़कों का नेटवर्क बढ़ाने के लिए सरकार हाई-वे के विस्तार पर 20 हजार करोड़ रुपए खर्च करने जा रही है। पांच साल में सरकार का लक्ष्य 60 लाख नौकरियां तैयार करना है।वित्त मंत्री ने कहा कि पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास के लिए  नॉर्थ इस्ट काउंसिल के माध्यम से योजना चलाई जाएगी। साथ ही नार्थ इस्ट क्षेत्र के विकास के लिए सरकार 1500 करोड़ रुपए खर्च करने जा रही है। वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार आंगनबाड़ी केंद्रों को आधुनिक बनाने जा रही है। वित्त मंत्री ने कहा है कि मेंटल हेल्थ काउंसिल के लिए सरकार राष्ट्रीय स्तर पर टेली-मेंटल हेल्थ कार्यक्रम की शुरुआत करेगी। इस प्रोग्राम के लिए आईआईटी बेंगलुरु की मदद ली जाएगी।  सीतारमण ने कहा कि नेशनल डिजिटल हेल्थ इकोसिस्टम के लिए प्लेटफॉर्म की शुरुआत होगी।  

शिक्षा क्षेत्र (Education Sector) के लिए कई घोषणाएं करते हुए सीतारमण ने कहा कि स्किल डिवेलपमेंट के लिए ‘डिजिटल देश ई-पोर्टल’ लॉन्‍च किया जाएगा। वित्‍त मंत्री ने अहम ऐलान में कहा कि ‘पीएम ई विद्या के ‘वन क्लास, वन टीवी चैनल’ (One Class, One TV Channel) कार्यक्रम को 12 से 200 टीवी चैनलों तक बढ़ाया जाएगा। यह सभी राज्यों को कक्षा 1 से 12 तक क्षेत्रीय भाषाओं में Supplementary Education In Regional Languages For Class 1-12 प्रदान करने में सक्षम बनाएगा।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman)ने आम बजट (Budget 2022) में मिडिल क्लास और सैलरीड क्लास को बड़ा झटका दिया है। सबकी उम्मीदें थी कि इसबार सरकार आयकर टैक्स स्लैब में बदलाव कर सकती है लेकिन इसमें कोई बदलाव नहीं किया गया है। वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा कि पोस्ट ऑफिस खातों के जरिए किसानों को सुविधा मुहैया कराई गई है। सरकार का प्रयास है कि डिजिटल बैंकिंग की सुविधा को देश के सभी इलाके में सही तरीके से पहुंचाए जा सके। देश के 75 जिलों 75 बैकिंग यूनिट स्थापित करेंगे। ताकि लोग अधिक से अधिक डिजिटल भुगतान कर सके। पोस्ट ऑफिस और बैंक को आपस में जोड़ा जाएगा। आपस में पैसों का लेनदेन होगा। पोस्ट ऑफिस में भी अब ऑनलाइन ट्रांसफर होगा। को-ऑपरेटिव सोसाइटी के लिए 18 प्रतिशत की टैक्स दर को घटाकर 15 प्रतिशत करने का ऐलान और सरचार्ज को 12 प्रतिशत से घटाकर 7 प्रतिशत करने का प्रस्ताव। साथ ही, इनकम बेस को भी 1 करोड़ की जगह 10 करोड़ किए जाने की घोषणा

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें