Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

कहाँ 9 महीने में घर घर पहुंचाने का आश्वासन दिया गया, कहाँ 1 वर्ष बीत गया लेकिन फिर भी पेयजल का नाम नही।

हमेशा की ही तरह निर्माण कार्य का केवल ढींडोरा पीटा जाता है। झूटे आश्वासन के अलावा प्रशासन कुछ भी देने में असमर्थ नज़र पड़ रही है। आज हम बात कर रहे हैं विचारपुर में चल रहे निर्माण कार्य की जहाँ नल जल योजना के तहत बनाई जा रही पानी की टंकी व पाइप लाइन का काम बीते एक वर्ष से अधर में लटका हुआ है। एक वर्ष का लंबा समय बीत चुका है लेकिन अब भी निर्माण कार्य शुरू होने की कोई आहट नज़र नही दिख रही।

निर्माण कार्य कर भी दिया जाता है तो बिल्कुल एहसान की तरह, इतनी घटिया क्वालिटी के सामानों का इस्तेमाल किया जाता है जिसे वही ग्रामीण ही समझ सकते हैं जो इसका इस्तेमाल करते हैं। ठेकेदार द्वारा घटिया स्तर का पानी की टंकी बनाए जाने से ग्रामीणों ने अपनी नाराजगी व्यक्त की है। लोगों को दिए आश्वासन के अनुसार विचारपुर में 53 लाख की लागत से बन रहे पानी की टंकी 9 माह में पूर्ण किया जाना था जिसके बाद हर घर में नल के माध्यम से जल पहुंचाया जाना था। इस नल जल योजना का काम विभाग ने ठेकेदार को टेन्डर के माध्यम से दे दिया था। लेकिन हमेशा की ही तरह ठेकेदार व विभाग की उदासीनता के कारण बीते एक वर्ष से अधिक का समय बीत चुका है लेकिन फिर भी यह मिशन दूर दूर तक पूर्ण होता हुआ नज़र नही पड़ता।

समस्या बस इतनी ही नही है बल्कि पानी की सप्लाइ के लिए पूरे गाँव में पाइप लाइन का कार्य पूर्ण होना अभी शेष रह गया है, वहीं पानी की टंकी के लिए लगाए जाने वाले मोटर के लिए ट्रैन्स्फॉर्मर को पंप हाउस के पास न लगाकर 400 मीटर से अधिक दूरी पर लगाया गया है। जिससे आने वाले दिनों में मोटर के लिए समस्या बन सकती है। जिससे ग्रामीणों को पानी मिलना मुश्किल ही नही नामुमकिन हो जाएगा। उम्मीद यही होगी की प्रशासन अपनी कुम्भकरणीय नींद से जागकर लोगों के हित में जल्द से जल्द फैसला ले।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें