Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

महंगाई डायन खाए जात है, देश में खुदरा महंगाई दर बढ़कर 6.01 प्रतिशत हुई।

महंगाई डायन खाए जात है। गाना 12 साल पुराना हो गया है लेकिन देश में महंगाई तेजी से बढ़ते हुए नए नए आयाम छू रही है। अमीर और अमीर होते जा रहे हैं और गरीब गरीबी की गर्त में गिरते जा रहे हैं। राष्ट्रीय सांख्यिकीय कार्यालय एनएसओ के द्वारा सीपीआई यानी कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स के आंकड़े जारी किए गए जिसके अनुसार जनवरी महीने में देश में खुदरा महंगाई दर 6.01% रही जो पिछले 7 महीनों में सबसे ज्यादा है।

आंकड़ों के अनुसार अनाज 3.39% महंगा हो गया और सब्जियों के मामले में महंगाई दर बढ़कर 5.19% हो गई। खाने पीने की चीजों पर 5.43% तक महंगाई बढ़ गई है।हैरानी की बात तो यह है कि बीते महीने में महंगाई शहरों के मुकाबले गांव में अधिक रही। जहाँ शहरों में इसका प्रतिशत 5.91 दर्ज किया गया। वहीं गांवो में यह 6.12% रही। देश में हरियाणा में सबसे अधिक खुदरा महंगाई देखी गई जो कि 7.23% रही और सबसे कम पंजाब में दर्ज की गई।

देश के 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव चल रहे हैं। हर तरह के मुद्दे उछाले जा रहे हैं। लोगों को बांटने, आपस में लड़ाने की राजनीति तो खूब होती है। महंगाई, रोजगार शिक्षा जैसे बेसिक पर चुनाव क्यों नही लड़े जाते। इन पर ध्यान केंद्रित क्यों नहीं किया जाता? खुद से सवाल करिएगा। आपको जीवन में किन चीजों की जरूरत है और आप किन बातों को ध्यान में रखकर अपना कीमती वोट देते है, अपना नेता चुनते है!

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें