Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

भारतीय क्रिकेटर ऋद्धिमान साहा क्यों बने हैं सुर्ख़ियों में ?

भारत में इन दिनों आईपीएल की,T20 की, क्रिकेट की चर्चा खूब हो रही है।हाल ही में भारत ने वेस्टइंडीज को T20 मैच में हराकर सीरीज अपने नाम की। इसके बाद कई महत्वपूर्ण टूर्नामेंट, सीरीज के लिए भारतीय टीम तैयार की जा रही है। श्रीलंका के खिलाफ मार्च के पहले हफ्ते में शुरू हो रही टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम की घोषणा की गई। इस टीम में रिद्धिमान साहा समेत तीन और सीनियर क्रिकेटर्स को आगामी टेस्ट सीरीज से बाहर रखा गया है। इनमें चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे और इशांत शर्मा का नाम शामिल है।

विकेटकीपर और बल्लेबाज रिद्धिमान साहा ने टीम में चयन नहीं होने पर अपनी निराशा जाहिर की। 19 फरवरी को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उन्होंने कई बड़े खुलासे किए। उन्होंने कहा कि भारतीय टीम के कोच राहुल द्रविड़ ने उनसे पहले ही कह दिया था कि मैनेजमेंट एक युवा विकेटकीपर को तैयार करना चाहता है और ऐसे में उनके लिए मौके कम हो सकते हैं। ऋद्धिमान ने यह भी कहा कि राहुल द्रविड़ ने उन्हे सन्यास लेने की सलाह दी थी।

जब राहुल द्रविड़ ने इस बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि इस बात से मुझे बिलकुल दुख नहीं पहुंचा। मेरे मन में ऋद्धिमान साहा, उनकी उपलब्धियों और भारतीय क्रिकेट में उनके योगदान के लिए बहुत सम्मान है। लेकिन उनके साथ मेरी बातचीत का मकसद था कि इस बारे में उन्हें मीडिया के ज़रिये पता ना चले। ऋद्धिमान साहा की जगह टीम में ऋषभ पंत को शामिल किया गया है और बैकअप के तौर पर केएस भरत का नाम है। इस पर राहुल द्रविड़ ने ऋषभ पंत को नंबर वन विकेटकीपर बताते हुए कहा कि इस साल सिर्फ तीन टेस्ट मैच होने हैं। इसलिए एक युवा विकेटकीपर को तैयार करने की योजना थी ।उन्होंने कहा कि टीम में चयन नहीं होने से खिलाड़ियों का दुखी होना सामान्य है। इससे साहा के लिए मेरा सम्मान या भावनाएं बदल नहीं जाती।

कोच के इस तरह के जवाब की हर तरफ तारीफ हो रही है। लेकिन ऋद्धिमान से जुड़ा एक और मुद्दा सुर्खियों में बना हुआ है। अपने ट्विटर अकाउंट पर साहा ने एक व्हाट्सएप चैट साझा की जिसमें एक कथित पत्रकार उनका इंटरव्यू लेने के लिए कह रहे हैं। जब साहा की ओर से उन्हें कोई जवाब नहीं मिला तब पत्रकार धमकी देने पर उतर आए। पत्रकार ने कहा कि आपने मेरा फोन नहीं उठाया। मैं अब आपका इंटरव्यू कभी नहीं लूंगा और इस बात को हमेशा याद रखूंगा।

ऋद्धिमान के स्क्रीनशॉट शेयर करने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। कई क्रिकेटर्स उनके सपोर्ट में आ गए हैं और उन्हें पत्रकार का नाम उजागर करने को कह रहे हैं। बीसीसीआई ने भी इस मामले में जांच करने की बात कहीं है। क्रिकेटर्स की प्रसिद्धि उनकी कमाई तो हम सबको नजर आती है। लेकिन उनकी जिंदगी का एक और अहम हिस्सा उनके संघर्ष और ऐसे अनुभव भी है। उनको अनदेखा नही किया जाना चाहिए।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें