Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

Sonu Sood पर क्यूँ हुई FIR दर्ज ?

पंजाब विधानसभा चुनाव के दौरान पोलिंग बूथ के पास पाए जाने पर सोनू सूद की कार को पंजाब पुलिस द्वारा जब्त कर लिया गया है। इसके बाद जब पुलिस को इस बात की जानकारी मिली कि वह मोगा के Landeke गांव में अपनी बहन के लिए चुनाव प्रचार कर रहे थे, तो उनके खिलाफ FIR दर्ज कर ली गई है। सोनू सूद के खिलाफ IPC की धारा 188 के तहत मोगा सिटी पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है।

बता दें कि सोनू सूद की बहन मालविका सूद सच्चर मोगा से कांग्रेस उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रही थीं। मतदान के दिन सोनू सूद की गाड़ी को जब्त कर लिया गया और उन्हें को घर भेज दिया गया। चुनाव आयोग ने एक्टर को मोगा में मतदान केंद्रों पर जाने से रोक दिया था क्योंकि उन्हें शिकायत मिली थी कि वह कथित तौर पर मतदाताओं को प्रभावित कर रहे थे।

इस मामले पर सोनू सूद ने भी अपनी प्रतिक्रिया रखी है, उन्होंने कहा ‘हमें विपक्ष, खासकर अकाली दल के लोगों द्वारा विभिन्न बूथों पर धमकी भरे कॉलों के बारे में पता चला। कुछ बूथों पर पैसे बांटे जा रहे हैं। इसलिए निष्पक्ष चुनावों की जांच करना और सुनिश्चित करना हमारा कर्तव्य है।’ सोनू सूद ने कहा कि इसी वजह से वो बाहर गए थे। अभी वह घर पर हैं। सोनू सूद ने कहा कि निष्पक्ष चुनाव होने चाहिए। सोनू सूद ने पहले लॉकडाउन में लोगों की जमकर मदद की थी जिसके बाद फैंस ने उन्हें रियल लाइफ हीरो का टैग दिया था। अपने घरों से दूर फंसे हुए लोगों को वापस उनके गांव-शहरों तक पहुंचाने के लिए सोनू सूद ने अपनी जान लगा दी थी।

डिप्टी कमिश्नर हरीश नैयर का कहना है कि पूरे मामले की रिपोर्ट एसएसपी से तलब की है। इस बारे में प्रशासन का कहना है कि अगर आराेप सही पाए गए ताे कड़ी कार्रवाई की जाएगी। गाैरतलब है कि रविवार सुबह से ही साेनू सूद और उनकी बहन मालविका सूद हर बूथ पर मतदाताओं से मिल रहे थे। मालविका माेगा सीट से चुनाव लड़ रही हैं। इस सीट भाजपा प्रत्याशी हरजाेत कमल से मालविका का सीधा मुकाबला है।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें