mp budget 2022
Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

MP BUDGET 2022-23: सरकारी कर्मचारियो का महंगाई भत्ता 31% किया गया, MBBS की सीट बढ़ाई गई।

मध्य प्रदेश के वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने वित्तीय वर्ष 2022-23 का बजट पेश कर दिया है। इस बजट में आपके लिए क्या खास है, क्या बदलाव किया गया है और क्या नया है। आज के वीडियो में हम आपको बताएंगे। इस बार का कुल बजट 2 लाख 79 हज़ार 237 करोड़ का है। बजट में हर वर्ग को राहत देने की कोशिश की गई है। खास बात यह रही कि कोई भी नया टैक्स नहीं लगाया गया ना ही कोई टैक्स बढ़ाने का प्रस्ताव है।

  1. सरकारी कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 20% से बढ़ाकर 31% किया गया है। साढ़े सात लाख कर्मचारियों को इसका फायदा होगा।
  2. छात्रों के लिए भी कई घोषणाएं की गई है। एमबीबीएस की 2035 सीटो को बढ़ाकर 3250 कर दिया गया है। नर्सिंग की 50 सीटें बढ़ाई गई है। Cm राइज़ योजना के तहत 360 नए स्कूल खुलेंगे। साथ ही भोपाल में स्पोर्ट्स कांपलेक्स और स्पोर्ट्स सेंटर खोले जाने की घोषणा की गई है।
  3. वित्त मंत्री ने 13 हज़ार टीचर्स की नई भर्ती की घोषणा की है। निजी क्षेत्र में नौकरियां मिलेंगी साथ ही 6000 आरक्षकों की भर्ती किए जाने के बात की गई है।
  4. किसानों के लिए भी बजट में बहुत कुछ है। 18650 करोड की 9 नई माइक्रो सिंचाई योजनाएं शुरू होंगी। उद्यानिकी फसलों के लिए एक लाख मिट्रिक टन की भंडारण क्षमता बढ़ाने की बात की गई है।
  5. मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना फिर से शुरू की जाएगी। सरकार 60 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्गों को फ्री में तीर्थ यात्रा कराएगी।
  6. गांव में 4584 किलोमीटर सड़के और 180 पुल बनेंगे। नर्मदा प्रगति पथ बनाया जायेगा।

इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट क्षेत्र में काफी अच्छी घोषणाये की गई है। भोपाल,इंदौर, जबलपुर में पीपीपी मॉडल पर 217 इलेक्ट्रॉनिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन लगेंगे। सागर, शाजापुर और उज्जैन में सोलर प्लांट लगाने की घोषणा की गई है।
प्रदेश में पहली बार चाइल्ड बजट पेश किया गया जो कि 27 हज़ार 792 करोड का है। 12 साल से कम उम्र के बच्चों इसके तहत सुविधाएं दी जाएंगी। इसके अलावा गायों की सेवा के लिए नई योजना शुरू की जाएगी। बजट में आम आदमी के काम की बात है बिजली बिल पर ₹25000 करोड़ रुपए की सब्सिडी दिए जाने का प्रावधान। महिलाओं को स्वरोजगार से जोड़े जाने की कवायद है, लेकिन उन को केंद्र में रखकर कोई खास प्रावधान और घोषणा नहीं की गई है

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें