side effects of fairness creams
Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

गोरा होने की चाह ? ई- कॉमर्स साइट पर बिक रहे मर्करी वाले फेयरनेस क्रीम से सावधान।

वधू चाहिए – फलाने- फलाने भारी भरकम वेतन वाले लड़के के लिए सुंदर,आकर्षक, गोरे रंग की लड़की चाहिए। प्रतिष्ठित परिवार, हैंडसम युवक हेतु सुयोग्य लड़की चाहिए, गोरा रंग प्राथमिकता में रहेगा। गोरा रंग प्राथमिकता में रखती इन विवाहित विज्ञप्तियों को आपने जरूर पढ़ा होगा। वैसे तो रंगभेद का इतिहास पूरे विश्व में काफी पुराना है। अश्वेत या ब्राउन कहे जाने वाले लोगों ने काफी संघर्ष देखे हैं। आमतौर पर हमें इस संघर्ष में उनकी भावनाएं और तकलीफे नजर आएंगी लेकिन कुछ लोग ऐसे थे जिन्हें इसमें व्यापार और पैसा नजर आया।अश्वेत लोगों में उन्हें उपभोक्ता नजर आए और इस तरह आने वाले सालों में दुनिया भर में करीब 61000 करोड रुपए का फेयरनेस कॉस्मेटिक बाजार खड़ा कर दिया गया।

सामाजिक दबाव में, ध्यानाकर्षण की चाह में, गोरा होने के लालच में लोगों ने नियमित तौर पर फेयरनेस क्रीम का इस्तेमाल शुरू कर दिया। यह क्रीम आपको गोरा जरूर दिखा सकती है। लेकिन इन में इस्तेमाल होने वाले खतरनाक केमिकल आपकी त्वचा को कितना नुकसान पहुंचाते हैं यह सामने से नहीं दिखता। लोगों के मन में गोरा बनने की भावना जगा कर इकॉमर्स साइट्स दुनिया भर में हाई मरकरी मिक्सड क्रीम बेच रही है जो कि खतरनाक साबित हो सकता है।

इन क्रीम से स्किन पर होने वाले साइड इफेक्ट को देखते हुए मीनामाता कन्वेंशन ऑन मर्करी में कॉस्मेटिक में मर्करी की सीमा तय की गई थी। 1 किलो कॉस्मेटिक क्रीम बनाने में अधिकतम 1 मिलीग्राम मर्करी का इस्तेमाल करने की ही इजाजत थी। इसके साथ ही ज्यादा मरकरी वाले प्रोडक्शन के आयात और निर्यात पर रोक लगा दी गई थी। कई देशों ने क्रीम में मर्करी के उपयोग पर रोक लगा दी लेकिन इन सबके बावजूद उनके निर्माताओं की मनमानी जारी है।

हाल ही में ज़ीरो मर्करी ग्रुप की जांच में पाया गया कि करीब 47% स्किन क्रीम मे मर्करी की मात्रा 10000 पीपीएम से 50 हज़ार ppm तक है। यानी तय सीमा से 10 हज़ार से 50 हज़ार गुना ज्यादा। इस जाँच में 40 ई-कॉमर्स साइट पर एशिया, यूरोप, अमेरिका और अफ्रीका के 17 देशों में बेचे जा रहे 271 तरह के स्किन फेयरनेस कॉस्मेटिक प्रोडक्ट के सैंपल लिए गए।इनमे 30 वेबसाइट पर उपलब्ध उत्पादों में उच्च स्तर का मर्करी पाया गया।

ई कोमर्स साइट पर धड़ल्ले से बिकते यह गोरा करने वाले क्रीम आपकी त्वचा को अंदर से जला रहे हैं। ऐसी किसी भी वस्तु को खरीदने और इस्तेमाल करने से पहले उसमें क्या डाला गया है,कितनी मात्रा में डाला गया है। यह जरूर पढ़ ले और हाई मरकरी वाले प्रोडक्ट से तो दूर ही रहे। इन्हे बेच रही ई कॉमर्स साइट के विरोध में कई NGO ने सवाल उठाए हैं। इनसे होने वाले नुकसानो को देखते हुए त्वरित एक्शन लेना जरूरी है।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें