Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

ज्ञानवापी मुद्दा: पहले ऐप्लकैशन में की गई तीन मांगे

वाराणसी में ज्ञानवापी परिसर के सर्वे मामले में आज सिविल जज सीनियर डिवीजन रवि कुमार दिवाकर की कोर्ट में दो एप्लिकेशन के सात पॉइंट्स पर सुनवाई होगी। पहला प्रार्थना पत्र यूपी सरकार यानी डीजीसी सिविल महेंद्र प्रसाद पांडेय का है। दूसरा प्रार्थना पत्र हिंदू पक्ष यानी मां शृंगार गौरी मामले की वादिनी सीता साहू, मंजू व्यास और रेखा पाठक का है।

ज्ञानवापी मामले में UP सरकार की ओर से वाराणसी कोर्ट में अर्जी दाखिल की गई है। DGC सिविल महेंद्र प्रसाद पांडेय ने सिविल जज सीनियर डिवीजन रवि कुमार दिवाकर की अदालत में एप्लिकेशन दिया है। इसमें तीन मांगें की गई हैं।

  • ज्ञानवापी मस्जिद स्थित जिस 3 फीट गहरे मानव निर्मित तालाब को सीज किया गया है। उसके चारों तरफ पाइप लाइन और नल हैं। उस नल का उपयोग नमाजी वजू के लिए करते हैं। तालाब परिसर सील होने के कारण नमाजियों के वजू के लिए बाहर व्यवस्था की जाए।
  • ज्ञानवापी के सील हुए क्षेत्र में शौचालय भी हैं। उनका उपयोग नमाजी करते हैं। अब उन्हें वहां नहीं जाने दिया जा रहा है। ऐसे में उनकी व्यवस्था की जाए।
  • सील किए गए तालाब में कुछ मछलियां भी हैं। ऐसे में उन्हें खाने की चीजें नहीं मिल पा रही हैं। उन मछलियों को अब कहीं और पानी में छोड़ा जाए।
Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें