Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

राजनीतिक घराने से ताल्लुक रखने वाली MBA की छात्रा वैष्णवी सिंह ठाकुर सागर जिले की सबसे कम उम्र की सरपंच बनी

जब राजनीति में हमे कुछ नए चेहरे देखने को मिलते हैं, या यूं कहें की पढे लिखे आज कल के नौ जवान देखने को मिलते हैं तो दिल फूले नही समाता न? ऐसी ही कुछ खबर आज हम लेकर के आए हैं, मध्य प्रदेश जहां राजनीतिक घराने से ताल्लुक रखने वाली MBA की छात्रा वैष्णवी सिंह ठाकुर सागर जिले की सबसे कम उम्र की सरपंच बनी हैं। सागर जनपद की ग्राम पंचायत बामौरा के लोगों ने गांव के विकास का उद्देश्य लेकर एक मंच पर बैठकर महज 23 साल की वैष्णवी को सरपंच और पंचायत के 10 वार्डों में सभी महिला पंचों को निर्विरोध चुना है। अब ग्राम पंचायत बामौरा की बागडोर एमबीए की छात्रा वैष्णवी और 10 महिला पंच संभालेंगी। निर्विरोध सरपंच चुनी गईं वैष्णवी ने कहा कि गांव का विकास करना ही पहली प्राथमिकता है। बचपन से राजनीति देखते और सीखती आई हूं। पढ़ाई की। लेकिन अब राजनीति में उतरकर गांव का विकास करूंगी। हर जरूरतमंद की मदद करूंगी। 5 साल में गांव को आदर्श ग्राम बनाने की पूरी कोशिश करूंगी।

निर्विरोध सरपंच चुनी गईं वैष्णवी के पिता उत्तम सिंह ठाकुर होटल का संचालन करते हैं। वहीं दादा भूपेंद्र सिंह ठाकुर प्रदेश सरकार में नगरीय प्रशासन मंत्री हैं। वैष्णवी डॉ. हरिसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय से एमबीए की पढ़ाई कर रही हैं। इस साल उनका चौथा सेमेस्टर शुरू होना है। वह ग्राम पंचायत की कमान संभालने के साथ ही अपनी पढ़ाई करेंगी। वैष्णवी कहती हैं कि मुझे और मेरे परिवार को किसी चींज की कमी नहीं है। शुरू से ही लोगों की मदद करना अच्छा लगता है।

पढ़ाई करने के बाद मैं भी सागर से बाहर जाकर नौकरी कर सकती थी। लेकिन नौकरी के साथ गांव की सेवा नहीं कर पाती। इसलिए परिवार के साथ बैठकर निर्णय लिया और बामौरा व जिंदा गांव के लोगों के भरोसे को स्वीकार किया है। मैं गांव के लोगों का भरोसा टूटने नहीं दूंगी। गांव में हर घर में पानी पहुंचेगा। स्वच्छता, सड़क, शौचालय पर काम होगा। सरकार की सभी योजनाओं का लाभ दिलाया जाएगा। महिला उत्थान और लोगों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए काम करूंगी। जल संरक्षण पर जोर दिया जाएगा। ग्राम पंचायत के कार्यों को करने में प्रबंधन की पढ़ाई भी मददगार साबित होगी।

ग्रामीणों ने सरकार की योजना और महिलाओं को आगे बढ़ाने को लेकर ग्राम पंचायत की कमान महिलाओं के हाथों में सौंपी है। ग्राम पंचायत बामौरा में सरपंच पद पर वैष्णवी ठाकुर और 10 वार्डों में पंच पद के लिए रेखा पटेल, लक्ष्‌मी ठाकुर, माया मनोहर पटेल, बबीता लोधी, भाग्यश्री मौर्य, ममता अहिरवार, शीलरानी अहिरवार, नीता अहिरवार और कलावती अहिरवार को निर्विरोध चुना है। बामौरा ग्राम पंचायत की करीब 2000 की आबादी है। इसमें ग्राम जिंदा भी लगता है। पंचायत क्षेत्र में करीब 1200 मतदाता हैं।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on pinterest

साझा करें

ताजा खबरें

सब्सक्राइब कर, हमे बेहतर पत्रकारिता करने में सहयोग करें